Latest news
कपड़ा क्षेत्र के लिए केंद्र से 10,683 करोड़ रुपये की PLI योजना मंजूर बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार की मां अरुणा भाटिया का निधन सम्पूर्ण जनजागृति ऑर्गेनाइजेशन द्वारा मोटिवेशनल क्लास का शुभारंभ झारखंड: नमाज के लिए कमरे का विरोध, कल किया कीर्तन तो आज बजाया डमरू गिलानी की मौत के बाद कश्‍मीर में नहीं है मातमी माहौल, अवाम को शांति रास आई अधिवक्ताओं की समस्याओं का समाधान ही प्राथमिकता: सर्वेश शर्मा 9 सितंबर को जम्मू के दौरे पर जाने वाले हैं राहुल, वैष्‍णो देवी के भी करेंगे दर्शन अफगानिस्‍तान के हालात पर चर्चा करेंगे ग्रुप-7 देशों के विदेश मंत्री धरती के पहले शिक्षक थे सप्त ऋषि टोक्यो पैरालंपिक: भारत के खाते में एक और गोल्ड, एक सिल्‍वर भी
Advertisement

बाघमारा में मिला सत्येंद्र के शव का पुलिस ने किया उद्भेदन

0

रिपोर्ट : काशीनाथ । 9262976004

::  पेड़ पर रहस्यमय परिस्थिति में मिला शव निकला हत्या का मामला
::  हत्यारोपी प्रेमिका सहित चार आरोपियों को पुलिस ने भेजा जेल

बाघमारा : पिछले दिनों बाघमारा के गोपालपुर के जंगल में सतेंद्र सोरेन के रहस्यमय परिस्थिति में पाए गए शव मामले का उद्भेदन करने में बाघमारा पुलिस को सफलता मिली है। यह रहस्यमय मामला को पुलिस ने मृतक सतेंद्र की मां बुधनी देवी के लिखित शिकायत के आधार पर आरोपियों से गहन पुछताछ करने के बाद मामला हत्या का पाया है। इस हत्या के मामले में बाघमारा पुलिस ने चार आरोपी चम्पा देवी, किरण कुमारी, रेश्मा कुमारी और मंडल सोरेन को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। उक्त घटना के उद्भेदन की विशेष जानकारी तोपचांची इंस्पेक्टर राज कपूर ने बाघमारा थाना में एक प्रेस कॉन्फेंस के दौरान दी। इस घटना को उद्भेदन करने में बाघमारा थाना प्रभारी सुबेदार कुमार यादव, प्रशिक्षु दारोगा मानस कुमार साधु, प्रमोद कुमार, एएसआई संतोष कुमार सिंह, मनराज भुटू कुमार, चंदन शर्मा का अहम योगदान रहा है। मामला 23 जुलाई की है। जब गोपालपुर के जंगल में गोपालपुर आदिवासी टोला के ही 22 वर्षीय सतेंद्र सोरेन का शव एक पीला गमछा के सहारे पेड़ पर झुलता हुआ पाया गया था। उस समय पुलिस ने शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। वहीं मृतक सतेंद्र की मां बुधनी देवी के शिकायत पर पुलिस ने गहन जांच पड़ताल को जारी रखा। पिछले दिनों लगातार गहन पुछताछ के बाद पुलिस के समक्ष मृतक के प्रेमिका किरण कुमारी के होने की बात सामने आई। इसी बिंदु से पुलिस को अनुसंधान में आगे बढ़ने का रास्ता मिला। जिससे पुलिस ने गहन पुछताछ में एक-एक कर आरोपियों को खंगालने में सफलता पाई। पिछले चार दिनों से जारी गहन पुछताछ के दौरान मृतक के प्रेमिका किरण कुमारी के मां चम्पा देवी ने सतेंद्र का हत्या कर साक्ष्य को छुपानें के लिए जंगल में पेड़ पर लटका दिए जाने की बात स्वीकारी है। इस घटना को लेकर सतेंद्र की प्रेमिका किरण की मां चम्पा देवी ने पुलिस के समक्ष घटना में अपनी संलिप्ता की बात स्वीकारते हुए कहा है कि 21 जुलाई की रात को सतेंद्र शराब के नशे में उसके घर आया। और उसकी बड़ी बेटी किरण के साथ सतेंद्र ने संबंध बनाना आरंभ किया। जो उसकी नजर उस पर पड़ गई। इसी दौरान उन्होंने लोहे के सब्बल से सतेंद्र पर प्रहार कर दिया। इसी बीच उनके परिवार के सदस्यों के साथ उनकी मारपीट होने लगा। इस मारपीट की घटना में आरोपी चंपा के छोटी बेटी रेश्मा कुमारी और उसके ससुर मंडल सोरेन ने उसकी सहयोग किया। मारपीट के दौरान सतेंद्र की मौत हो गई। चंपा ने पुलिस को आगे बताया कि सतेंद्र की मौत के बाद किरासन तेल उसके शरीर पर डालकर उसे जलाया गया। इसके बाद बांस और रस्सी के सहारे उसे बांधकर पास के जंगल में ले गए और पीला गमछा के सहारे उसे गर्दन में बांधकर लटका दिया। आरोपी चम्पा देवी ने पुलिस को एक और जानकारी दी है कि मृतक सतेंद्र इसके पूर्व आरोपी चंपा देवी से सबंध बना चुका था। उसके बाद उन्होंने उसकी बड़ी बेटी किरण के साथ भी पिछले एक साल से संबंध बना रहा था। अब उसकी छोटी बेटी रेश्मा के साथ भी मृतक सत्येंद्र द्वारा संबंध बनाने में जोर दिए जाने की बात कही है। पुुलिस ने घटना को अंजाम देने में उपयोग किए गए सामानों में आरोपी के घर से खुन लगा हुआ लोहे के सब्बल, लकड़ी का डंडा, एक साड़ी, एक दुपट्टा, केरोसिन का बोतल, घर में खुन लगा मिट्टी बरामद किया हैं। वही जंगल के घटना स्थल से बांस का एक बड़ा डंडा, रस्सी को भी जब्त किया है।

Share.

About Author

Leave A Reply

Translate »
error: Content is protected !!